जम्मू-कश्मीर के तीन फोटो पत्रकारों को मिला 2020 का पुलित्जर पुरस्कार

  Written By:    Updated On:
  |  


जम्मू-कश्मीर के तीन फोटो पत्रकारों को मिला 2020 का पुलित्जर पुरस्कार

जम्मू-कश्मीर के तीन फोटो पत्रकारों को पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है.

श्रीनगर:

जम्मू-कश्मीर के तीन फोटो पत्रकारों को पिछले साल अगस्त में अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान हटाए जाने के बाद क्षेत्र में जारी बंद के दौरान सराहनीय काम करने के लिए ‘फीचर फोटोग्राफी’ श्रेणी में 2020 के पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. तीन फोटो पत्रकार मुख्तार खान, यासीन डार और चन्नी आनंद सोमवार रात घोषित पुलित्जर पुरस्कार हासिल करने वाले लोगों की सूची में शुमार हैं. खान ने खुशी जाहिर करते हुए कहा, ”मैं अपने जीवनकाल में इसकी कल्पना भी नहीं कर सकता … मेरे दोनों परिवार (घर और एपी) के बिना यह संभव नहीं हो सकता था.” पुरस्कारों की घोषणा होने के तुरंत बाद खान ने ट्वीट किया, ”प्रिय साथियों और दोस्तों, मैं केवल आपको धन्यवाद कहना चाहता हूं और यह पुरस्कार हमारे लिए सम्मान की बात है.”

यह भी पढ़ें

खान की तरह ही श्रीनगर से आने वाले डार ने कहा, ”मैं हमेशा ही हमारे साथ खड़े रहने के लिए आपको शुक्रिया कहना चाहूंगा. यह सम्मान हमारी कल्पना से भी कहीं अधिक बढ़कर है. यह सम्मान पाकर अभिभूत हूं.” नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया, ‘‘ जम्मू-कश्मीर में पत्रकारों के लिए यह साल मुश्किल रहा और पिछले 30 साल को देखते हुए यह कह पाना आसान नहीं है. यासिन डार, मुख्तार खान और चन्नी आनंद को प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए शुभकामनाएं. ”

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ्ती ने भी फोटो पत्रकारों को बधाई देते हुए कहा , ‘‘ अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान को गैरकानूनी तरीके से हटाए जाने के बाद कश्मीर में उत्पन्न हुए मानवीय संकट को तस्वीरों में उतारने के लिए यासिन डार, मुख्तार खान को बधाई. कमाल है कि हमारे पत्रकारों को विदेश में सम्मान मिल रहा है जबकि अपने ही घर में निर्दयी कानून के तहत उन्हें दंडित किया जाता है.”उन्होंने यह ट्वीट अपनी मां महबूबा के अकाउंट से किया.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap