‘जान का खतरा’ बता इस्तीफा देने वाली IAS अफसर रानी नागर के मुद्दे पर भड़कीं मायावती – महिला सुरक्षा पर ऐसी सरकारी उदासीनता…

  Written By:    Updated On:
  |  


'जान का खतरा' बता इस्तीफा देने वाली IAS अफसर रानी नागर के मुद्दे पर भड़कीं मायावती - महिला सुरक्षा पर ऐसी सरकारी उदासीनता...

‘नौकरी के दौरान अपनी जान को खतरे’ के कारण नौकरी से आईएएस अधिकारी का इस्तीफा

लखनऊ,:

बसपा मुखिया मायावती (Mayawati) ने कथित रूप से ”नौकरी के दौरान जान को खतरा” होने पर आईएएस अफसर रानी नागर के इस्तीफे को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए बुधवार को इस मामले में ”सरकारी उदासीनता” और चुप्पी पर सवाल उठाये हैं. मायावती ने ट्वीट कर कहा ”हरियाणा की महिला आईएएस (IAS) अफसर रानी नागर को, ”नौकरी के दौरान अपनी जान को खतरे’ के कारण अंततः अपनी नौकरी से ही इस्तीफा देकर वापस अपने घर यूपी लौट आना पड़ा है, जो अति-दुःखद व अति-दुर्भाग्यपूर्ण है. 

यह भी पढ़ें

उन्होंने कहा ”महिला सुरक्षा और सम्मान के मामले में ऐसी सरकारी उदासीनता और अन्य लोगों की चुप्पी क्यों?” 

गौरतलब है कि हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग में अपर निदेशक के पद पर तैनात रहीं आईएएस अधिकारी रानी नागर ने गत चार मई को पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने इस्तीफे के पीछे सरकारी ड्यूटी के दौरान सुरक्षा न होने का हवाला दिया है.” 

रानी ने ट्विटर पर लिखा था, ”मैं रानी नागर पुत्री श्री रतन सिंह नागर निवासी गाजियाबाद गांव बादलपुर तहसील दादरी जिला गौतमबुद्धनगर, आप सभी को सूचित करना चाहती हूं कि मैंने आज दिनांक 04 मई 2020 को आईएएस के पद से इस्तीफ़ा दे दिया है. मैं और मेरी बहन रीमा नागर माननीय सरकार से अनुमति लेकर चंडीगढ से अपने पैतृक शहर गाजियाबाद वापस जा रहे हैं. हम आपके आशीर्वाद व साथ के आभारी रहेंगे.”

वीडियो: दिल्ली के नॉर्थ MCD के हिंदू राव अस्पताल के डॉक्टर और नर्स कर रहे हैं इस्तीफे की बात

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)





Source link

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap