भारत ने 71 देशों के 60 हजार नागरिकों को उनके देश वापस भेजा

  Written By:    Updated On:
  |  


भारत ने 71 देशों के 60 हजार नागरिकों को उनके देश वापस भेजा

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

विदेश मंत्रालय ने आज कहा कि 28 लाख हाइड्रोक्लोरोक्विन टेबलेट 25 देशों को मदद के तौर पर दी गई हैं. भारत अपनी अंतरराष्ट्रीय ज़िम्मेदारियों के प्रति कृतसंकल्पित है. दूसरे देशों में हमारे मिशन मेडिकल और बेस्ट प्रैक्टिस पर नज़र रखे हुए हैं.

विदेश मंत्रालय ने कहा कि पीएम मोदी ने कई देशों के नेताओं से बात की है. कई देशों ने भारत के तौर तरीक़ों और नागरिकों को सुरक्षित वापस भेजने की तारीफ़ की है. 71 देशों के 60 हज़ार नागरिकों को वापस भेजा गया है. पैरासिटामॉल की 19 लाख टेबलेट भी 37 देशों को दी गई हैं. ICMR और स्वास्थ्य मंत्रालय इस मामले को देख रहे हैं.

विदेशों में फंसे भारतीयों को वापस लाने के सवाल पर मंत्रालय ने कहा कि देश में पूरा लॉकडाउन है. अंतरराष्ट्रीय फ़्लाइटें बंद हैं. हमें पता है बहुत भारतीय लौटने के इंतज़ार में हैं. लेकिन इस बारे में अभी कुछ कहना जल्दबाज़ी होगी. सरकार का ध्यान इस तरफ़ है. जब तक लौटने की स्थित नहीं बन जाती तब तक वे जहां हैं, उनका ध्यान रखा जा रहा है.

खाड़ी देशों से भारत विरोधी सोशल मीडिया संदेशों पर मंत्रालय ने कहा कि सोशल मीडिया का ग़लत इस्तेमाल किया जा रहा है. देशों के सम्बन्ध सोशल मीडिया के ज़रिए नहीं चलते. भारत के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को व्हाइट हाउस द्वारा अनफॉलो करने के सवाल पर‬ कहा गया कि व्हाइट हाउस ने साफ़ किया है कि वह समय-समय पर अलग-अलग देशों के उच्च अधिकारियों को थोड़े समय के लिए ट्विटर पर फॉलो करता है ताकि उससे जुड़ी किसी सूचना को RT किया जा सके.



Source link

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap