Coronavirus: NSUI ने की मांग- फर्स्ट ईयर और सेकेंड ईयर के स्टूडेंट को बिना एग्जाम दिए किया जाए पास

  Written By:    Updated On:
  |  


Coronavirus: NSUI ने की मांग-

NSUI ने फर्स्ट ईयर और सेकेंड ईयर के स्टू‍डेंट को बिना एग्जाम दिए पास करने की मांग की है.

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर जारी है. कोरोनावायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. कोरोनावायरस और लॉकडाउन  (Lockdown) के चलते स्कूल और कॉलेज समेत तमाम तरह के अहम एग्जाम स्थगित कर दिए गए हैं. वहीं, कांग्रेस के स्‍टूडेंट विंग NSUI ने रविवार को मांग की है कि फर्स्ट ईयर और सेकेंड ईयर के स्टूडेंट्स को बिना एग्जाम दिए ही पास किया जाए. छात्रसंघ ने यह भी मांग की है कि कोरोनावारस की वजह से जो क्लासेस मिस हुई हैं उन्हें यूनिवर्सिटी के खुलने के बाद दोबारा से संचालित किया जाना चाहिए.

उन्होंने कहा, “फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स को पिछले साल के प्रदर्शन के आधार पर 10 फीसदी एक्स्ट्रा मार्क्स के साथ पास किए जाना चाहिए, क्योंकि ऐसा देखा गया है कि फाइनल ईयर में स्टूडेंट्स के प्रदर्शन में काफी सुधार आया है.” कोरोनावायरस के प्रकोप को रोकने के लिए देश में लगे लॉकडाउन के चलते अकेडमिक कैलेंडर पर भी बुरा असर पढ़ रहा है.

वहीं, इससे पहले कोरोनावायरस के चलते हुए लॉकडाउन की वजह से तेलंगाना स्टेट काउंसिल ऑफ हायर एजुकेशन ने भी डिग्री प्रोग्राम्स के पहले और दूसरे साल में पढ़ रहे सभी स्टूडेंट्स को पास करने का फैसला किया है. हालांकि, स्टूडेंट्स को अगले साल अपने सभी बैकलॉग एग्जाम क्लियर करने होंगे. 

कमीशन ने ये भी स्पष्ट किया है कि इस वर्ष 50 प्रतिशत क्रेडिट नियम लागू नहीं होगा. इस नियम के मुताबिक, पहले और दूसरे ईयर में पढ़ने वाले छात्रों को अगले वर्ष पदोन्नत होने के लिए कम से कम 50 प्रतिशत क्रेडिट हासिल करने होते हैं. हालांकि, काउंसिल इस बार स्टूडेंट्स को छूट दे रही है. फर्स्ट और सेकेंड ईयर में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स पर इस साल ये नियम लागू नहीं किया जाएगा. 

 तेलंगाना स्टेट काउंसिल ऑफ हायर एजुकेशन (TSCHE) के अध्यक्ष प्रोफेसर टी पपी रेड्डी ने कहा कि अगर डिग्री की परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं  तभी भी पहले या दूसरे साल में पढ़ने वाले किसी भी छात्र को फेल नहीं किया जाएगा. हालांकि तीसरे साल में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को डिग्री पाने के लिए सभी एग्जाम क्लियर करने होंगे. 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap